सीतामढ़ी युवा कांग्रेस ने कुछ इस तरह दी मौलाना आज़ाद को श्रद्धांजलि

सीतामढ़ी। महान स्वतंत्रता सेनानी,आधुनिक शिक्षा के जनक, देश के प्रथम शिक्षा मंत्री भारत रत्न मौलाना अबुल कलाम आजाद की 131वीं जयंती के मौके पर सीतामढ़ी जिला युवा कांग्रेस ने अनूठे ढंग से उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष मो. शम्स शाहनवाज के नेतृत्व में युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मौलाना आजाद की स्मृति में मेहसौल में बने बदहाल पड़े आज़ाद चौक टॉवर की साफ-सफाई कर उसे चमका दिया। साथ ही जिला प्रशासन से इस टॉवर के अविलंब जीर्णोद्धार की मांग की।

आज़ाद चौक टॉवर की सफाई से पहले और बाद की तस्वीर

इस मौके पर सीतामढ़ी जिला युवा कांग्रेस अध्यक्ष मो. शम्स शाहनवाज ने कहा कि मौलाना अबुल कलाम आजाद ने देश में आधुनिक शिक्षा की बुनियाद रखी। शिक्षा मंत्री रहते हुए उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति की स्थापना की थी। उनका मुख्य लक्ष्य प्राइमरी शिक्षा को बढ़ाना था। वर्ष 1992 में उन्हें भारत रत्न से भी नवाजा गया था।भारत की आजादी के बाद  मौलाना अबुल कलाम ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की स्थापना की थी। उन्होंने कहा था कि मैं उस अखंडता का हिस्सा हूं, जिसे भारतीय राष्ट्रवाद कहा जाता है। आज के दौर में राष्ट्रवाद को लेकर उनके विचारों को आत्मसात करने की जरूरत है।

शम्स ने कहा कि युवा कांग्रेस जिला प्रशासन से मांग करती है कि आज़ाद चौक टॉवर का जीर्णोद्धार किया जाए। साथ ही उनकी स्मृति में एक जिला स्तर के अत्याधुनिक लाईब्रेरी की स्थापना की जाए।

इसके अलावा युवा कांग्रेस द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में सराहनीय योगदान के लिए मदरसा रहमानिया मेहसौल के प्रिंसिपल मौलाना अब्दुल वदूद मजाहेरी को सम्मानित भी किया। मौके पर युवा कांग्रेस के जिला सचिव संजीव कुमार यादव, प्रोजेक्ट शक्ति के जिला संयोजक मो. अब्दुल्ला, अफ़रोज़ आलम, वैदेही शरण यादव, अब्दुल अहद, अशरफ अली, अज़मत अली, रंजीत कुमार, सेराज अहमद, नीतीश कुमार, फ़ुजैल अहमद, मो. मोबीन, उज़ैर अख्तर, मो. मज़हर अली, मो. कलीमुल्लाह, मो. शफीक, अब्दुर रशीद, मो. खुर्शीद, आरिफ, समद, संजय सिंह आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *